सोमवार, 1 अगस्त 2011

अनुराधा पटेल की वापसी



गिरीश कर्नाड निर्देशित उत्सव और गुलजार निर्देशित इजाजत में अपनी महत्वपूर्ण भूमिकाओं से याद रह जाने वाली अभिनेत्री अनुराधा पटेल एक अरसे बाद सक्रियता के साथ लौटी हैं। हाल ही में सलमान खान अभिनीत फिल्म रेडी और पिछले हफ्ते प्रदर्शित एक उल्लेखनीय फिल्म खाप में वे नजर आयी हैं। दो अलग-अलग तरह के किरदार उनको इन फिल्मों में करने को मिले जिसमें वे अपनी पहचान रेखांकित करती हैं। रेडी, अलग मिजाज की मजेदार फिल्म है, उसमे उनका कैरेक्टर हल्का-फुल्का है लेकिन खाप में वे गम्भीर भूमिका में दिखायी देती हैं।

अनुराधा पटेल, भारतीय सिनेमा के महानायक दादामुनि अशोक कुमार की नातिन हैं। अभिनेता कँवलजीत से उन्होंने विवाह किया है। लम्बे समय सिनेमा में सक्रिय रहने के बाद नब्बे के दशक से ही उन्होंने काम करना कम कर दिया था। 2000 के बाद भी उनका काम करना लगभग नगण्य सा रहा लेकिन इस बीच उनको मिले अनुबन्ध और उनकी सक्रियता ने यह साबित किया है कि अब वे पारिवारिक जवाबदारियों से फारिग होकर एक बार फिर इस दौर को अपने लिए आजमाना चाहती हैं। अपने नाना अशोक कुमार की जन्मशताब्दी वर्ष में, जो कि इस साल अक्टूबर तक चल रहा है, वे उन पर केन्द्रित कई समारोहों में भी शामिल हुईं।


पिछले साल गोवा अन्तर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह में भी अनुराधा ने अशोक कुमार के प्रति आदरांजलि व्यक्त करने वाले उस सत्र में हिस्सा लिया था जिसमें उनकी अविस्मरणीय फिल्मों के प्रदर्शन हुए थे। अनुराधा पटेल की क्लैसिक उत्सव 1984 में प्रदर्शित हुई थी जिसमें उन्होंने रेखा की सखी की भूमिका निभायी थी। गिरीश कर्नाड ने इस एपिक को बड़े ही कलात्मक ढंग से निर्देशित किया था। गुलजार की इजाजत तो जैसे स्मृतियों में प्रेम-कविता की तरह थी जिसमें नसीर की प्रेमिका के रूप में अनुराधा के पूर्वदीप्ति (फ्लैश बैक) के जितने भी प्रसंग हैं, वो भुलाये नहीं भूलते। मेरा कुछ सामान तुम्हारे पास रखा है, गाना गहरे मर्म तक उतरता है, अनुराधा पर ही फिल्माया गया है।

अनुराधा पटेल ने बंधन अनजाना, अनंत यात्रा, सदा सुहागन, तोहफा मोहब्बत का, जेंटलमेन, हमारी बेटी आदि फिल्मों में काम किया है। एक अन्तराल बाद वे 2007 में फिल्म दस कहानियाँ में दिखायी दीं। एक सिलसिला फिर बना और फिर इट्स माय लाइफ, जाने तू या जाने ना, आयशा में उन्होंने काम किया, फिर रेडी और खाप जिसका कि जिक्र हमने ऊपर किया। राजकुमार सन्तोषी की पावर भी उनकी आने वाली फिल्मों में से एक है।

2 टिप्‍पणियां:

uma dogra ने कहा…

kya hi samvedensheel kalakar hai Anuradha. Achha lekh hai.

सुनील मिश्र ने कहा…

उमा जी, आपका आभारी हूँ।